किराये पर रहने वाली लडकियों के पास लगने लगी लडकों की भीड

1 views

प्रयागराज के नैनी थाना इलाके के सरपतहिया मार्ग पर एसडीएम और सीओ के नेतृत्व में पुलिस टीम ने छापा मारकर सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ कर दिया। पुलिस ने बाहर की दो लड़कियों को दो युवकों के साथ गिरफ्तार कर लिया।

कमरे से बियर की बोतल समेत तमाम आपत्तिजनक चीजें बरामद हुई हैं। मोहल्ले वालों की शिकायत पर पुलिस ने कार्रवाई की थी। चारों के खिलाफ देह व्यापार अधिनियम की धारा में रिपोर्ट दर्ज की गई है।

जौनपुर व मुंबई की दो युवतियां नैनी के सरपतहिया मार्ग पर पिछले दो महीने से किराए का कमरा लेकर रह रहीं थीं। उनके कमरे पर अक्सर लड़के पहुंचते थे।

मोहल्ले के लोगों ने आपत्ति जताई लेकिन दोनों लड़कियां उनसे लड़ने पर उतारू हो गईं थीं। इसके बाद मोहल्ले के लोगों ने पुलिस से शिकायत की।

प्रारंभिक जांच के बाद जब मामला सही लगा तो उच्चाधिकारियों को बताया गया। सोमवार को एसडीएम व सीओ करछना के नेतृत्व में पुलिस मौके पर पहुंची तो कमरे के अंदर दो युवक व दो युवतियां आपत्तिजनक स्थिति में थे।

पुलिस ने मौके से चार मोबाइल, चार खाली व दो भरे बियर केन, 43 सौ रुपये नगद, सिगरेट समेत कई आपत्तिजनक चीजें बरामद कीं। चारों को पकड़ कर थाने लाया गया, जहां उनका देह व्यापार निवारण अधिनियम के तहत चालान कर दिया गया।

मोहल्ले के लोगों ने बताया कि शुरूआत से ही दोनों युवतियों की गतिविधियां सही नहीं थी, जिसका उन्होंने कई बार विरोध भी किया था। सीओ करछना राजेश कुमार यादव ने बताया कि सूचना पर छापेमारी की गई थी। पुलिस ने रंगेहाथ चारों को पकड़ा। उनके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है।

झूठे मुकदमें में फंसाती थी देह व्यापार में पकड़ी गई युवतियां

जौनुपर व मुंबई रहने वाली दोनों युवतियां नैनी की सरपतहिया मार्ग पर पिछले दो माह से किराए का कमरा लेकर रह रही थी। जब उनके खिलाफ शिकायत मिली तो पुलिस ने गोपनीय जांच शरू कर दी।

पता चला कि दोनों यहां के बाद से ही सेक्स रैकेट चला रही थीं। उन्होंने कई बार ग्राहकों को ही फंसा दिया था। पता चला कि उन्होंने कुछ लोगों के खिलाफ झूंसी और कौंधियारा में रिपोर्ट भी दर्ज कराई थी।

उन पर यह भी आरोप है कि वे पैसे लेकर किसी के खिलाफ छेड़खानी तथा अन्य धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करा देतीं थीं। एक पुलिस कर्मी ने बताया कि जिस जगह छापा पड़ा, दोनों वहां पिछले दो महीने से रह रही हैं

लेकिन वे यमुनापार क्षेत्र में पिछले तीन सालों से रह रही थीं। जहां भी शिकायत शुरू हो जाती है और मोहल्ले वाले ज्यादा विरोध करते हैं, वहां से दोनों चली जातीं और दूसरी जगह किराये पर कमरा ले लेतीं।

Related Articles

No results found.

Menu