सचिन वाजे ने बताया, क्‍यों खड़ी की थी मुकेश अंबानी के घर के सामने स्कॉर्पियो?

1 views

एंटीलिया केस में सूत्रों के हवाले से खबर है कि विस्फोटकों से भरी गाड़ी रखने का मास्टरमाइंड सचिन वाजे ही है। सूत्रों का दावा है कि NIA की पूछताछ में वाजे ने ये स्वीकार कर लिया है कि एंटीलिया के बाहर उसने की विस्फोटकों से भरी स्कॉर्पियो कार उनसे ही खड़ी की थी।

NIA के अधिकारियों के मुताबिक, पूरी प्लॉनिंग सचिन वाजे की थी। सूत्रों का दावा है कि सचिन वाजे द्वारा ऐसा लाइम लाइट में आने के लिए किया गया। खबरों के मुताबिक NIA को सचिन वाजे द्वारा बताई गई कहानी पर भरोसा नहीं है, इस कारण एजेंसी इस मामले की बारीकी से जांच करने में लगी हुई है। फिलहाल सचिन वाजे NIA की कस्टडी में हैं।

एनआईए के अनुसार, वाजे से पूछताछ के दौरान विस्फोटक लगाने में उनकी प्रत्यक्ष भागीदारी सामने आई है। एजेंसी ने कहा कि साजिश के एंगल को भी पूरी तरह से जांचने और सह-षड्यंत्रकारियों की पहचान स्थापित करने की आवश्यकता है।

सचिन वाजे ने नहीं पहली थी पीपीई किट

एनआईए के सूत्रों के अनुसार सचिन वाजे ने उस दिन पीपीई किट नहीं पहनी थी। सीसीटीवी के वीडियो की जांच में पता चला कि जिसे पहले पीपीई किट समझा था, वो कुर्ता पायजामा था। इसके बाद वाजे ने बड़े रुमाल से अपना सर ढक लिया था, जिससे कोई सीसीटीवी देखने के बाद किसी तरह का अंदाजा ना लगा पाए।

जांच के नाम पर सबूत नष्ट कर रहा था वाजे

जांच में पता चला कि सचिन वाजे जांच के नाम पर सबूत नष्ट कर रहा था। वाजे के बरामद लैपटॉप से डाटा डिलीट कर दिया गया है, जबकी वाजे ने दावा किया है कि उनका मोबाइल कहीं गिर गया है।

मर्सिडीज से बरामद हुआ कैश

इसके अलावा वाजे की मर्सिडीज से 5 लाख कैश भी बरामद किया गया है। इसके साथ ही एक नो‍ट गिनने की मशीन, स्कॉर्पियो की नंबर प्लेट, वह कपड़े जोकि सचिन वाजे ने 24 फरवरी को पहने हुए थे। वहीं वाजे से बरामद मर्सिडीज को लेकर भी एक और खुलासा हुआ है।

मर्सिडीज कार मनीषा भावसर के नाम पर रजिस्टर्ड है। हालांकि मनीषा के परिवार का दावा है कि कार काफी पहले ऑनलाईन बेची जा चुकी है।

एनआईए के अनुसार, मनसुख हीरेन इस मर्सिडीज में सीएसटी से ठाणे लौटे। इस मर्सिडीज को मुंबई पुलिस अपराध शाखा मुख्यालय से जब्त किया गया था और इसका इस्तेमाल सचिन वेज द्वारा किया जा रहा था।

 

Related Articles

No results found.

Menu