सिंघु बॉर्डर पर किसानो को लेकर आयी बहुत बड़ी खबर

1 views

देशभर में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप जारी है, कोरोना अब किसान आंदोलन तक जा पहुंचा है, सिंघु बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे दो किसानों की कोरोना से मौत हो गई.

मृतकों की पहचान पंजाब के पटियाला निवासी बलबीर सिंह (50) और लुधियाना निवासी महेंद्र सिंह (70) के रूप में हुई है, दोनों सिंघू बॉर्डर पर कृषि कानून का विरोध कर रहे किसान संगठनों का हिस्सा थे.

सोनीपत के मुख्य चिकित्सा अधिकारी जसवंत सिंह पुनिया ने कहा कि बलबीर कुछ दिनों से बुखार से पीड़ित था। उन्हें एक सरकारी अस्पताल में मृत घोषित कर दिया गया और एक परीक्षण से पता चला कि उन्हें COVID था।

केंद्र सरकार द्वारा बनाये गए तीन नए कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर पंजाब, हरियाणा और अन्य जगहों पर हजारों किसान पिछले छह महीनों से सिंघु और टिकरी सहित दिल्ली की विभिन्न सीआओ पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

सिंघु बॉर्डर पर दो किसानों की मौत के बाद किसान संगठनों में दहशत का माहौल है, भारतीय किसान यूनियन (किसान सरकार) स्पोक्स के भोपाल सिंह ने कहा, सिंघू बॉर्डर पर 2 किसानों की कोरोना से मौत हो गई.

किसान ऐसे ही मरते रहे तो कौन आंदोलन करेगा? इसलिए मैं किसानों से अनुरोध करना चाहता हूं कि देश में संकट को देखते हुए हमें आंदोलन को फिलहाल के लिए स्थगित कर देना चाहिए।

भोपाल सिंह ने कहा, किसान बचे रहेंगे तभी हम अन्नदाता कहलाएंगे। हम किसान तभी कहलाएंगे जब हम अपनी फसल और जान बचा पाएंगे। हम भविष्य में आंदोलन करेंगे, लेकिन अभी स्थिति ठीक नहीं है। इस कठिन समय में हमें देश के साथ रहना चाहिए।

Related Articles

No results found.

Menu